Monday, 8 July 2019

What is Demilitarized Zone (डी_मिलिट्राइज्ड_जोन(डीएमजेड) क्या है).

डी_मिलिट्राइज्ड_जोन(डीएमजेड) क्या है?




डीएमजेड_उत्तर_कोरिया_और_दक्षिण_कोरिया को विभाजित करने वाले असैन्यकृत इलाका है।
इसके दोनों ओर दोनों देशों की सेनाओं की भारी मौजूदगी रहती है।
यह दोनों देशों के बीच बफर जोन के रूप में काम करने के लिए _कोरियाई_आर्मिस्टिस समझौते के प्रावधानों द्वारा स्थापित किया गया है।

कब_हुआ_निर्माण


1953 में कोरियाई युद्ध समाप्त होने के बाद उत्तर कोरिया, चीन और संयुक्त राष्ट्र के बीच समझौते होने के बाद इसका निर्माण हुआ था।
यह 250 किलोमीटर लंबा है, और लगभग 4 किलोमीटर (2.5 मील) चौड़ा है।

हथियारों_पर_है_प्रतिबंध


डीएमजेड के भीतर भारी हथियारों पर प्रतिबंध है। गश्त की अनुमति है, लेकिन सैन्य सीमांकन रेखा
(एमडीएल )को पार नहीं किया जा सकता है और दोनों तरफ से 1,000 से अधिक लोगों को किसी भी समय क्षेत्र के अंदर अनुमति नहीं दी जाती है। यह खदानों से भी घिरा हुआ है।

रहता_है_भारी_सैन्य_जमावड़ा


डीएमजेड के दोनों तरफ भारी सैन्य जमावड़ा रहता है। इस इलाके में न सिर्फ कंटीली तारें लगी हैं, बल्कि वहां बहुत सी बारूदी सुरंगें भी बिछाई गई हैं। निगरानी के लिए बहुत सारे कैमरे भी लगे हैं और चौबीस घंटे दोनों तरफ सेना के टैंक भी तैनात रहते है।

अंदर_बसा_है_एक_गांव


इसके अंदर एक संयुक्त सुरक्षा क्षेत्र है। जिसे #_पनमुनजोम भी कहा जाता है, जो कि एक गांव है। हर साल हजारों लोग इस क्षेत्र का दौरा करने आते हैं।
यही एक मात्र जगह है जहां दोनों देशों के सैनिक कुछ ही फिट की दूरी पर आमने-सामने खड़े होते हैं।
यहां आने वाले पर्यटकों को संयुक्त राष्ट्र प्रशासित सम्मेलन कक्ष की माध्यम से उत्तर कोरियाई क्षेत्र में आधिकारिक तौर पर कदम रखने का मौका भी मिलता है। 2017 में 105,000 से अधिक पर्यटकों ने जेएसए का दौरा किया था।
जबकि लगभग 30,000 उत्तर कोरिया से थे।
 इसके केंद्र में सैन्य सीमांकन रेखा (एमडीएल) है, जहां युद्ध विराम पर हस्ताक्षर हुए थे। समझौते के तहत दोनों पक्ष 2,000 मीटर तक अपनी सेना वापस खींचने पर सहमत हुए।

दूरी

यह दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल से 60 किमी दूर और उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग से 210 किमी दूर है।

नोट-- अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने डीएमजेड यानी डीमिलिट्राइज्ड जोन में मुलाकात की है।

Copied

No comments:

Post a Comment

Blog Archive