Tuesday, 4 September 2018

Know Everything About India Post Payments Bank Its Services And Working Style IPPB.

Know Everything About India Post Payments Bank Its Services And Working Style IPPB.


क्या है इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक, जो बैंकिंग सेवा देने आपके घर तक आएगा.


हमारे देश में आज भी ऐसे कई इलाके हैं, जहां तक बैंकों की पहुंच नहीं है. न सरकारी बैंकों की और न प्राइवेट बैंकों की. तो ऐसे इलाकों में रह रहे लोगों तक बैंकिंग सेवा पहुंचाने के लिए भारत सरकार ने इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) लॉन्च किया है. पीएम मोदी ने 1 सितंबर 2018 को दिल्ली में इसका उद्घाटन किया.
हमारे देश में ऐसे कई लोग हैं, जिनके हाथ में स्मार्टफोन और इंटरनेट पहुंच गया है, लेकिन उनके पैर बैंक तक नहीं पहुंचे हैं. तो हमने सोचा कि अपने रीडर्स को सरकार के इस नए बैंक के बारे में बताया जाए.

#इंडिया_पोस्ट_पेमेंट्स_बेंक_क्या_है

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार #देश_के_लगभग_60% लोग अभी भी बैंकिंग क्षेत्र से नही जुड़े हैं. इसमें बहुत से वे लोग शामिल हैं जो कि भारत के ग्रामीण इलाकों में रहते हैं, जिनकी आमदनी बहुत कम है और असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं. ऐसे लोगों को वित्तीय सुविधा उपलब्ध कराने के लिए भारतीय रिज़र्व बैंक ने वित्तीय समायोजन की नीति के तहत देश के विभिन्न हिस्सों में पेमेंट बैंकों को स्थापित करना शुरू कर दिया 

#पेमेंट_बैंक_का_अर्थ;

पेमेंट बैंक भारत में मौजूद कमर्शियल बैंकों से अलग प्रकार के बैंक है. #पेमेंट_बैंकों_की_स्थापना_के_लिए_भारतीय_रिज़र्व_बैंक_ने_24_नवम्बर_2014_को_दिशा_निर्देश जारी कर दिए थे.

#पेमेंट_बैंक; जनता की सामान्य बैंकिंग की जरूरतों को तो पूरा करेंगे लेकिन कुछ प्रतिबंधों के साथ; जैसे पेमेंट बैंक लोगों के चालू और बचत खाते खोल सकेंगे लेकिन लोगों को क्रेडिट कार्ड और लोन नहीं दे सकेंगे. ये बैंक प्रवासी कर्मचारियों के रुपयों को जमा कर सकेंगे और प्रवासी श्रमिक द्वारा भेजी गई रक़म को उसको परिवार वालों को देने का काम भी करेंगे.

मोदी सरकार ने वित्तीय समायोजन की नीति के तहत गरीबों को बैंकिंग व्यवस्था से जोड़ने के लिए #1_सितम्बर_2018_को ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक’ की शुरुआत की है. इस बैंक का गठन डाक विभाग के अधीन सार्वजनिक कंपनी के रूप में किया जाएगा.  इस बैंक में 100 प्रतिशत हिस्सेदारी सरकार की होगी. डाक विभाग का पेमेंट्स बैंक डाकघरों के एक नेटवर्क के जरिये काम करेगा. इसमें #3_लाख_डाकिये_और_ग्रामीण_डाक सेवक शामिल होंगे.

अभी फ़िलहाल पेमेंट्स बैंक की सुविधा देशभर में 650 शाखाओं और 3250 सेवा केंद्रों पर उपलब्ध रहेगी. #31_दिसंबर_2018_तक_यह_बैंक_पूरी_तरह_से_डाक_विभाग_के_नेटवर्क_इस्तेमाल_करने लगेगा.



#इंडिया_पोस्ट_पेमेंट्स_बैंक_क्या_सुविधाएँ_देगा?

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक स्कीम दूसरे बैंकों की तुलना में छोटे स्तर की होगी. इस पेमेंट बैंक के माध्यम से लोन और क्रेडिट कार्ड को छोड़कर बैंकिंग से सम्बंधित सभी काम जैसे; बैंक में पैसा जमा कर सकते हैं, पैसे भेजे सकते हैं, किसी और के द्वारा भेजे पैसे लिए जा सकते हैं और आप किसी सम्बन्धी को पैसे भेज भी सकते हैं.

#इसके_अलावा_निम्न_सुविधाएँ_भी_मिलेगीं;

1. इस योजना के तहत ई-कॉमर्स साइटों से खरीदी गई चीजें भी आपके पास पहुंचाई जाएंगी. लोग ई-कॉमर्स वेबसाइट जैसे फ्लिप्कार्ट/अमेजॉन से खरीदारी कर सकेंगे. इसके लिए डाक विभाग ने अमेजन से करार किया है.

2. खाताधारक को #निःशुल्क_एटीएम_या_डेबिट कार्ड मिलेगा

3. खाताधारक को #निःशुल्क_नेट_बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध होगी

4. खाताधारक को #निःशुल्क_मोबाइल अलर्ट सेवा मिलेगी

5. इंश्योरेंस सेवा, म्युचअल फंड, करंट अकाउंट और अन्य वित्तीय सेवाएँ भी इसके माध्यम से हासिल की जा सकेगीं.


6. बैंक के माध्यम से बेसिक बैंकिंग, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण भुगतान (Direct Benefit Transfer), विभिन्न प्रकार के बिलों का भुगतान और टैक्स जमा करने जैसी सुविधाएं प्राप्त की जा सकेंगी.

#इंडिया_पोस्ट_पेमेंट_बैंक_की_सेवाएँ_कैसे_हासिल_होंगी;

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक अकाउंट खोलने के लिए आपके आधार कार्ड का इस्तेमाल करेगा. बैंकिंग सेवाएं आपको डाकघर के काउंटर पर भी मिलंगी और माइक्रो एटीएम के जरिये भी. इसके अलावा घर तक सर्विस देने के लिए डाकिये के पास स्मार्टफोन और बायोमैट्रिक डिवाइस होंगे. पोस्टल पेमेंट बैंक #हर_ट्रांस्जेक्शन_चार्ज_के_तौर_पर_1_पैसा_लेगा. हालाँकि घर पर सेवाएँ लेने के लिए आपको ज्यादा पैसे देने पड़ेंगे. दिसंबर, 2018 तक इन सेवाओं के लिए 1.55 लाख एक्सेस प्वाइंट बनाए जाएंगे. इनमें से 1.30 लाख ग्रामीण इलाके में होंगे.

#डाक_घर_बचत_खाता (Post Office Saving Account):

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक में बचत खाता खोलने के लिए #न्यूनतम_20_रुपये की आवश्यकता होगी और यदि कोई चेक की सुविधा के साथ बचत खाता खोलता है तो उसे न्यूनतम 500 रुपये जमा करने होंगे.  बचत खाता धारकों (चेक सुविधा के बिना) के लिए 50 रुपये प्रति माह और चेक सुविधा के साथ 500 रुपये की न्यूनतम राशि बनाए रखनी होगी.

पेमेंट बैंक में पैसे जमा करने की सीमा एक लाख लाख रुपये होगी. इससे ज्यादा पैसा जमा होने पर यह अपने आप पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट में चला जाएगा. लेकिन #सामान्य_बचत_खाता_धारकों_को_खाते_में_कोई_भी_मिनिमम_बैलेंस_रखना_जरूरी_नहीं_है. लेकिन इस प्रकार के खाता धारक को सेवाओं की होम डिलीवरी नहीं मिलेगी.

#जमा_राशि_पर_कितना_ब्याज_मिलेगा;

पेमेंट बैंक के तहत एक लाख रुपये तक का सेविंग अकाउंट खुलवाया जा सकेगा. पेमेंट बैंक 25 हजार रुपए की जमा राशि पर 4.5% का ब्याज, 25 हजार से 50 हजार रुपए की जमा राशि पर 5% ब्याज और 50 हजार से 1 लाख रुपए की जमा राशि पर 5.5% की दर से ब्याज देगा.

1 comment:

  1. Looking For RRB Result for Group D, ALP, and RPF? Look no more. Here, we are, providing the all RRB Result, may it be Group D, ALP, and RPF right, at one place at railwayresult.in. So, keep yourself updated with RRB Result.

    ReplyDelete

Blog archive